Google Seo में पेज एक्सपीरियंस के विषय पर जानकारी - डिंपल धीमान

Google News : कंपनी ने अप्रैल की शुरआत में घोषणा की थी , जिसमे बताया था वेबसाइट की रैंकिंग को बढ़ाने के लिए पेज एक्सपीरियंस का ऑप्शन सर्च कंसोल में लॉन्च किया जाएगा। जो मई 2021 में शुरू होगा। बता दें की यह फीचर अप्रैल के अंत में ही शुरू हो गया है। जिसके विषय में जानकारी नीचे दी गई है।

Google Seo में पेज एक्सपीरियंस के विषय में जानकारी - डिंपल धीमान


जैसा की आप सबको पता होगा कि गूगल ने हाल ही में अपना गूगल एल्गोरिथ्म अपडेट किया है । जिसमें कंपनी ने कई चीजों को शामिल किया है। गूगल एल्गोरिथ्म अपडेट में ही पेज एक्सपीरियंस को भी शामिल किया गया है। यह गूगल सर्च रैंकिंग में शामिल किया गया है । इसमें गूगल अपने यूजर्स के एक्सपीरियंस का माप कर सकेंगे। गूगल अपने यूजर्स के लिए गूगल एल्गोरिथ्म अपडेट लाते रहते हैं । जिससे उनके उपयोगकर्ताओं को अच्छा अनुभव मिलता रहे।

अभी तक इस अपडेट के कारण आपके ट्रैफिक पर कोई हानि नहीं होगी । पर 2021 में गूगल ऐसा कर सकता है । कोरोना वायरस के चलते गूगल ने अपनी एल्गोरिदम अपडेट्स के बारे में बता दिया है । और इसके लिए हमें कुछ महीनों का समय दिया है यह समय अवधि सिर्फ छह माह की है।


आखिरकार क्या है पेज एक्सपीरियंस एल्गोरिदम अपडेट?


गूगल का यह पेज एक्सपीरियंस अपडेट उन पहलुओं का माप लेने की क्षमता रखता है जो की उपयोगकर्ता किसी वेब पेज के साथ वार्तालाप करने को लेकर अपना कैसा अनुभव रखते हैं।
इन सब वजहों से आप लोगों को अपनी वेबसाइट को सभी वेब ब्राउज़र और उपयोगकर्ताओं के लिए बेहतर बनाना होगा और वेबसाइट के मोबाइल फोन यूजर्स की अपेक्षाओं को विकसित करने में मदद करना होगा।

गूगल यह कहता है कि इस अपडेट के आने से व्यवसायिक क्षेत्र में एक बहुत ही अच्छा व्यू लोगों को अनुभव करने को मिलेगा।


तो इसका मतलब आपको अपनी वेबसाइट की स्पीड को बढ़ाना होगा । ताकि यूज़र्स को आप की वेबसाइट पर एक अच्छा अनुभव प्राप्त हो। और आपको ऐसा कुछ नहीं करना होगा जिससे कि यूजर्स को आपकी वेबसाइट एक भृमितकर्ता साइट लगे । 
हम कह सकते हैं कि गूगल इससे यह नजर रख सकेगा कि हमारी साइट यूजर्स के लिए कितनी उपयोगी है और कितनी नहीं।

Google Seo में पेज एक्सपीरियंस के विषय में जानकारी - डिंपल धीमान


जैसे कि आप अपनी वेबसाइट के पेज के ओपन होते ही कोई पॉपअप ऐड कर देते है। यह एक भ्रमित करने वाली चीजों में शामिल है।

इस अपडेट के माध्यम से गूगल यह सुनिश्चित कर सकेगा की टॉप रैंक पर रहने वाली वेबसाइट अपने यूजर्स के लिए कैसा अनुभव बना रही है। क्या वह ऐसा अनुभव तो नहीं दे रही जिससे यूजर उनकी वेबसाइट से घृणा करें?

अपडेट के बारे में हम यह कह सकते हैं की इसका मुख्य उद्देश्य वेबसाइट को user-friendly वेबसाइट बनाना है ।
और इसका मतलब यह बदलाव SEO के अंदर एक बहुत ही बड़ी और महत्वपूर्ण पारी की शुरुआत कर सकता है।
गूगल का पेज एक्सपीरियंस एल्गोरिदम अपडेट गूगल सर्च रैंकिंग फैक्टर से बनाया गया है । इससे मोबाइल स्पीड अपडेट, पेज की स्पीड अपडेट ,और एचटीटीपी रैंकिंग को बढ़ावा देना सेफ ब्राउजिंग आदि को बढ़ावा देना है।

तो जानिए हमें पेज एक्सपीरियंस अपडेट के लिए तैयारी कैसे करनी होगी ।


अब आपको टॉप रैंकिंग फैक्टर में बने रहने के लिए यूजर एक्सपीरियंस के लिए तैयार होना होगा। गूगल सर्च कंसोल में कोर वेब विटाल्स(core web vitals) एक उच्चतम जगह है इसकी रिपोर्ट से यह पता लगाया जा सकता है कि हमारी साइट उन क्षेत्रों में किस तरह का प्रदर्शन कर रही है ।

गूगल का यह पेज एक्सपीरियंस अपडेट वेबसाइट की रैंकिंग पर कितना प्रभाव डाल सकता है । यह अभी तक सुनिश्चित नहीं किया गया है। SEO यह उम्मीद करते हैं की यह अपेक्षाकृत सिर्फ मामूली ही होगा । क्योंकि पेज एक्सपीरियंस के कुछ फैक्टर्स पहले से ही गूगल सर्च एल्गोरिदम के कारक हैं । पर गूगल ने आज ही विजुअल इंडिकेटर की घोषणा की , SEO को CWV (कोर वेब विटाल्स) और अन्य एक्सपीरियंस सिग्नल पर ज्यादा ध्यान देगा।



Google ने नई सर्च कंसोल रिपोर्ट में नए फ़िल्टर भी लॉन्च किए हैं। जिससे वेबसाइट ऑनर हरे / पीले / लाल रंग से पेज सर्च में अनुभव को देख सकते हैं।

Google Seo में पेज एक्सपीरियंस के विषय में जानकारी - डिंपल धीमान



एक टिप्पणी भेजें

Ram Ram Ji

और नया पुराने