विश्व ब्रेल दिवस ( World Braille Day ) क्या है,कब और क्यों मनाया जाता है? 4 जनवरी “डिम्पल धीमान"

( World Braille Day Holiday) 


वर्ल्ड ब्रेल डे हॉलिडे क्या है कब और क्यों मनाते हैं?

World Braille Day Holiday


4 जनवरी 2021 - आज सोमवार को विश्व ब्रेल दिवस की छूटी होती है. 

क्या होता है , ब्रेल?

 ब्रेल - ब्रेल का हिंदी अनुवाद होता है, कि अंधो के लिए उभरा हुआ सा. अगर आपको नहीं पता तो बता दें कि ब्रेल एक लिपि है,जिसे नेत्रहीन के लिए बनाया गया है. जिसकी मदद से कोई भी नेत्रहीन व्यक्ति या फिर कोई भी इसकी मदद से अंधेरे में पढ़ सकता है.
इसमें दो पंक्तियां होती है,जिसमे प्रत्येक पंक्ति में ६ (6) डॉट्स अर्थात् उभरे हूई बिंदू होते है. जिस पर हाथ फेर कर पढ़ा जा सकता है. इसके लिए नेत्रहीन व्यक्ति में अदभूत कला होना अनिवार्य है. क्यूंकि इस लिपि पर हाथ से पढ़ना मुश्किल होगा है.


ब्रेल लिपि के आविष्कारक एक नेत्रहीन विद्यार्थी थे. जिसका नाम लुई ब्रेल था. जो एक फ्रांसीसी थे,जिन्होंने ब्रेल लिपि का आविष्कार पढ़ने के लिए 1824 सन् में किया था. 


विश्व ब्रेल दिवस


यह दिवस फ्रांसीसी लेखक लुई ब्रेल के जन्मदिन पर मनाया जाता है. जिनका आज 4 जनवरी को जन्मदिन है. पहला जन्मदिन लुई ब्रेल का 4 जनवरी 1809 को मनाया गया था. जो 43 साल की उम्र, 1852 में इनका देहांत हो गया था.



Happy Birthday - अगर आपको पता नहीं है तो बता दे , आज उन का जन्मदिन है जिन्होंने विज्ञान जगत पर राज किया है और अब भी उनके दिए गए सूत्र के बिना वैज्ञानिक अधूरे हैं. जिन्होंने गुरुत्वाकर्षण के बल के बारे में लिखा था,
आज sir iseak Newton का जन्मदिन है. जो एक महान गणितज्ञ और भौतिकी थे ,जिन्होंने गति और  गुरुत्वाकर्षण के नियमो का सिद्धांत बनाया था.

एक टिप्पणी भेजें

Ram Ram Ji

और नया पुराने